Two Line Shayari Hindi | दो लाइन हिंदी शायरी

❝ना खोल मेरे मकान के उदास दरवाज़े,
हवा का शोर मेरी उलझने बढ़ा देते हैं।❜❜

 

❝हर रात जान बूझकर रखता हूँ दरवाज़ा खुला,
शायद कोई लुटेरा मेरा गम भी लूट ले।❜❜

 

❝मेरे दर्द भी औरो के काम आते है,
मैं जो रो दूँ तो लोग मुस्कुराते है।❜❜

 

❝दिल मेरा चुराकर वो बड़ी अदा से बोली,
वापिस लेने आए तो जान भी ले लुंगी।❜❜

 

❝जिंदगी छोटी नही होती है जनाब,
लोग जीना ही देरी से शुरु करते है।❜❜

 

❝हर मर्ज़ का इलाज़ मिलता था उस बाज़ार में,
मोहब्बत का नाम लिया दवाख़ाने बन्द हो गये।❜❜

 

❝मोहब्बत कर सकते हो तो खुदा से करो ‘दोस्तों’,
मिट्टी के खिलौनों से कभी वफ़ा नहीं मिलती।❜❜

 

❝तेरी चाहत ने निखारा है इस कदर मुझको,
आइना कहता है तुम्हें मेरी ज़रूरत क्या हैं।❜❜

 

❝तुमको देखा तुमको महसूस किया तो मौहब्बत भी समझ आई,
वरना इस शब्द की बस तारीफ ही सुना करते थे।❜❜

 

❝सब को इकट्ठा रखने की ताकत प्रेम में है,
और सब को अलग करने की ताकत भ्रम में है।❜❜

 

❝शहर में चर्चा है आख़िर ऐसी लड़की कौन है,
जिस ने अच्छे ख़ासे इक शायर को पागल कर दिया।❜❜

 

❝मैं निकला सुख की तलाश में रस्ते में खड़े दुखो ने कहा,
हमें साथ लिए बिना सुखों का पता नहीं मिलता जनाब।❜❜

 

❝हम ने रोती हुई आँखों को हसाया है सदा,
इस से बेहतर इबादत तो नहीं होगी हमसे।❜❜

 

❝किसी की आदत बन जाओ,​
​मोहब्बत खुद-ब-खुद बन जाओगे।❜❜

 

❝अपनी अच्छाई पर इतना भरोसा रखो,
की जो तुम्हे खोएगा वो हमेशा रोएगा।❜❜

 

❝मायूस कभी मत होना यकीन मानो तुम कभी,
तन्हा नहीं हो हर वक्त रब तुम्हारे साथ है।❜❜

 

❝नसीब अच्छा ना हो तो खूबसूरती का कोई फायदा नहीं,
दिलों के बादशाह अक्सर फकीर हुआ करते हैं।❜❜

 

❝आज बुरा है तो क्या हुआ कल अच्छा भी तो आएगा,
यह वक्त है जनाब रुक थोड़ी जाएगा।❜❜

 

❝मिलना तो हम तब भी चाहेंगे तुझसे,
​जब तेरे पास वक्त और हमारे पास साँसों की कमी होगी।❜❜

 

❝दिल के टुकड़े मजबूर करते है कलम चलाने को वरना,
​हक़ीक़त में कोई भी खुद का दर्द लिखकर खुश नही होता।❜❜

 

❝फिज़ा में फैल चली मेरी बात की खुशबू​,
​अभी तो मैंने हवाओं से कुछ कहा भी नहीं।❜❜

 

❝रंजिशे हैं अगर दिल में कोई तो खुलकर गिला करो,
​मेरी फितरत ऐसी है कि मैं फिर भी हँस कर मिलूंगा।❜❜

 

❝दिल साफ़ करके मुलाक़ात की आदत डालो​,
​धूल हटती है तो आईने भी चमक उठते हैं।❜❜

 

❝हर शख्स दूसरों को अखबार समझता है,​
​अपने मतलब की खबर काट लेता हैं।❜❜

 

❝देखी दरार मैंने आज आईने में,​
​पता नहीं शीशा टूटा था, या मैं।❜❜

 

❝वक्त इशारा देता रहा हम इत्तेफाक़ समझते रहे,
​बस यु ही धोखे खाते रहे और इस्तेमाल होते रहे।❜❜

 

❝इतना न मुस्कुराना कि नजर लग जाए जमाने की,
यहाँ हर नजर मेरी तरह मोहब्बत की नही होती।❜❜

 

❝आँखों में तेरी कोई करिश्मा ज़रूर है​,
​तू जिसको देख ले वो बहकता ज़रूर हैं।❜❜

 

❝तेरी मुस्कान से सुधर जाती है तबियत मेरी,
बताओ ना तुम इश्क़ करते हो या इलाज़।❜❜

 

❝मेरा असली दर्द तो सिर्फ मेरा खुदा जानता है,
तुमने तो सिर्फ मेरी नकली मुस्कान देखी है।❜❜

 

❝लाजिमी नहीं के तुझे आँखों से ही देखूँ,
तुझे सोचना भी किसी दीदार से कम नहीं।❜❜

 

❝खामोशियों से मिल रहे, खामोशियों के जवाब,
अब कैसे कहूँ कि उनसे मेरी बात नहीं होती।❜❜

 

❝थोड़ी सी नाराजगी भी लाजिमी थी इश्क में,
उसने बात नहीं की तो हमने भी छोड़ दी।❜❜

 

❝एहसासों की नमी बेहद जरुरी है हर रिश्ते में,
रेत भी सूखी हो तो हाथों से फिसल जाती हैं।❜❜

 

❝क्या बात है बड़े चुप बैठे हो क्या हुआ,
कोई बात दिल पे लगी है या कहीं दिल लगा बैठे हो।❜❜

 

❝फितूर होता है हर उम्र में जुदा जुदा,
खिलौनें, माशूका, रुतबा और फिर ख़ुदा।❜❜

 

❝तुम आओ तो थोड़ी छांव लेते आना,
जिंदगी की उलझनों में झुलस रहा है मेरा वजूद।❜❜

 

❝है इश्क एक गुनाह तो ये गुनाह कर लिया,
तेरे दर्द से इस दिल को तबाह कर लिया।❜❜

 

❝देखा जो इश्क़ आँखों में तो कहने लगा हकीम,
अफ़सोस की तुम अब इलाज के काबिल ही नहीं रहे।❜❜

 

❝तलब उठती है बार बार तुमसे बात करने की,
ना जाने देखते देखते कब तुम लत बन गये।❜❜

 

❝उँगलियाँ मेरी वफ़ा पर ना उठाना दोस्तों,
जिसको शक़ हो वो मेरा साथ निभाकर देखे।❜❜

 

❝तेरी जगह आज भी कोई नही ले सकता,
पता नही वजह तेरी खूबी है य मेरी कमी।❜❜

 

❝कभी तो परवाह किया करिये, इस दिल की,
आपकी इबादत के सिवा, ये कुछ नहीं करता।❜❜

 

❝लोग पढ़ लेते है आँखों से मेरे दिल की बात,
अब मुझसे तेरे गम की हिफाजत नहीं होती।❜❜

 

❝जिन्दगी का जिन्दगी से, वास्ता जिंदा रहे,
हम रहें जब तक, हमारा हौसला जिंदा रहे।❜❜

 

❝अगर तुम अजनबी थे तो लगे क्यों नहीं,
और अगर मेरे थे तो मिले क्यों नहीं।❜❜

 

❝छुपा लूं तुझको अपनी बाँहों में इस तरह,
कि हवा भी गुजरने की इजाज़त मांगे,
मदहोश हो जाऊं तेरे प्यार में इस तरह,
कि होश भी आने की इजाज़त मांगे।❜❜

 

❝रिश्तों को बस इस तरह से बचा लिया करो,
कभी मान जाया करो तो कभी मना लिया करो।❜❜

 

❝तेरे अहसास की खुशबू रग रग में समाई है,
अब तू ही बता क्या इसकी भी कोई दवाई है।❜❜

 

❝मैं वक़्त बन जाऊं तू बन जाना कोई लम्हा,
मैं तुझमें गुजर जाऊं तू मुझमें गुजर जाना।❜❜

 

❝चाहत बन गए हो तुम,कि आदत बन गए हो तुम,
हर सांस में यूं आते जाते हो जैसे मेरी इबादत बन गए हो तुम।।❜❜

 

❝ये लकीरें ये नसीब ये किस्मत,सब फ़रेब के आईने हैं,
हाथों में तेरा हाथ होने से ही,मुकम्मल ज़िन्दगी के मायने हैं।❜❜

 

❝जी चाहे कि दुनिया की हर एक फ़िक्र भुला कर,
दिल की बातें सुनाऊं तुझे मैं पास बिठाकर।❜❜

 

❝अच्छा लगता हैं तेरा नाम मेरे नाम के साथ,
जैसे कोई खूबसूरत जगह हो हसीन शाम के साथ।❜❜

 

❝मोहब्बत की कहूँ देवी या तुमको बंदगी कह दूँ,
बुरा मानो न गर हमदम तो तुमको ज़िन्दगी कह दूँ।❜❜

 

इसे भी पढ़ें:-  Sad Status about Life in Hindi | जिंदगी स्टेटस लाइन हिंदी

❝मैं बन जाऊं रेत सनम, तुम लहर बन जाना,
भरन मुझे अपनी बाहों में, अपने संग ले जाना.।❜❜

 

❝ना आँखों से छलकते है ना कागज़ पर उतरते है,
दर्द कुछ ऐसे है जो बस भीतर ही पलते हैं।❜❜

 

❝ज़िन्दगी ये तेरी खरोंचे हैं मुझ पर या,
फिर तू मुझे तराशने की कोशिश में है।❜❜

 

❝शायरी तभी जमती है ​महफ़िल में,​
​जब कुछ पुराने शायर ​अपना नया तजुर्बा रखते है।❜❜

 

❝मेरे दिल को अक्सर छू लेते है ख़ामोश चेहरे​,
हंसते हुए चेहरों में मुझे फरेब नज़र आता हैं।❜❜

 

❝पीते थे शराब हम, उसने छुड़ाई अपनी कसम देकर,
महफ़िल में गए थे हम, यारों ने पिलाई उसकी कसम देकर।❜❜

 

❝दिल मजबूर हो रहा है तुम से बात करने को,
बस जिद ये है कि बात की शुरुआत तुम करो।❜❜

 

❝थोड़ी थोड़ी ही सही मगर बातें तो किया करो,
चुप रहते हो तो भूल जाने का एहसास होता है।❜❜

 

❝यूँ ही भटकते रहते हैं अरमान तुझसे मिलने के,
न ये दिल ठहरता है न तेरा इंतज़ार रुकता है।❜❜

 

❝वो अदाएं ही क्या जो दिल को न हिला दे,
और वो प्यार ही क्या जो आँसू न गिरा दे।❜❜

 

❝कभी उम्मीदें उधड़ जाएँ तो मेरे पास ले आना,
मैं हौसलों का दर्जी हूँ, रफ़ू मुफ़्त में कर दूँगा।❜❜

 

❝ये जो मुस्कराहट का लिबास पहना है मैंने,
दरअसल खामोशियों को रफ़ू करवाया है मैंने।❜❜

 

❝मेरे चेहरे पे मुस्कान देखकर वो कहने लगे,
बिना दर्द के महफ़िल में रौनक नहीं होती।❜❜

 

❝मोहब्बत करनी है तो पहले वफा सीख लो,
ये कुछ दिनों की बेकरारी मोहब्बत नहीं होती हैं।❜❜

 

❝बहुत ज़ालिम हो तुम भी मुहब्बत ऐसे करते हो,
जैसे घर के पिंजरे में परिंदा पाल रखा हो।❜❜

 

❝तकलीफ़ ये नहीं,के तुम्हें अज़ीज़ कोई और है,
दर्द तब हुआ,जब हम नज़रअन्दाज़ किए गए।❜❜

 

❝तुम याद ना करो, तो भी अच्छे लगते हो,
खुदा जाने अगर याद करते तो क्या होता।❜❜

 

❝बड़ी ज़ालिम होती है ये एकतरफा मुहब्बत,
वो याद तो आते हैं पर याद नहीं करते।❜❜

 

❝इश्क़वालों में बड़प्पन ज़रूरी है यारो,
छोटे दिल में महबूब बसाये नहीं जाते।❜❜

 

❝लेने दे मुझे तू अपने खवाबो की तलाशी,
मेरी नींद चोरी हो गयी मुझे शक तुझ पर है।❜❜

 

❝चलो शाम का दस्तूर पूरा किया जाए,
उनकी यादों का वक़्त है,
एक बार फिर उनको याद किया जाए।❜❜

 

❝बहुत जुदा है औरोँ से मेरे दर्द की कहानीँ,
जख्म का कोई निशाँ नहीँ और दर्द की कोई इँतहा नहीँ।❜❜

 

❝मयख़ाने से बढ़कर कोई ज़मीन नहीं,
जहाँ सिर्फ़ क़दम लड़खड़ाते हैं, ज़मीर नहीं।❜❜

 

❝जब हर चीज की एक इंतिहा होती है,
​फिर ये मोहब्बत क्यों बेइंतिहा होती है।❜❜

 

❝आज भी कितना नादान है दिल समझता ही नहीं,
बरसो बाद भी उन्हें देखा तो दुवाए मांग बैठा।❜❜

 

❝कभी-कभी ये वक़्त भी बेरहम हो जाता है,
गुज़र तो जाता है मगर गुज़ारा नही जाता।❜❜

 

❝किताबों से दलील दूँ या खुद को सामने रख दूँ मैं,
​वो मुझ से पूछ बैठी है मोहब्बत किसको कहते है।❜❜

 

❝लम्हें लम्हें में बसी है तेरी यादों की महक,​
​ये बात और है की नज़रों से दूर रहते हो तुम।❜❜

 

❝लफ्जों से इतना आशिकाना ठीक नहीं है ज़नाब,
​किसी के दिल के पार हुए तो इल्जाम क़त्ल का लगेगा।❜❜

 

❝दिल को हल्का कर लेता हूँ लिख-लिख कर,​
​लोग समझते हैं मैं शायर हो गया हूँ।❜❜

 

❝खामोशी से बनाते रहो पहचान अपनी,
​हवाएँ ख़ुद गुनगुनाएगी नाम तुम्हारा।❜❜

 

❝खास हैं वो लोग इस दुनिया में,
​जो​ ​वक्त आने पर वक्त दिया करते है।❜❜

 

❝न जाने इतना दर्द क्यों देती है ये मोहब्बत,
​हँसता हुआ इंसान भी दुआओं में मौत मांगता।❜❜

 

❝एहसास बदल जाते है बस​ ​और कुछ नहीं,
​वरना मोहब्बत और नफ़रत​ ​एक ही दिल से होती है।❜❜

 

❝रिश्ता ही नही रहा अब किसी के साथ मेरा,​
​मेरी रूह भी कहती है तुझे छोड़ के चली जाउंगी एक दिन।❜❜

 

❝तेरी जगह आज भी कोई नही ले सकता,
पता नही वजह तेरी खूबी है य मेरी कमी।❜❜

 

❝तलब उठती है बार बार तुमसे बात करने की,
ना जाने देखते देखते कब तुम लत बन गये।❜❜

 

❝कभी तो परवाह किया करिये, इस दिल की,
आपकी इबादत के सिवा, ये कुछ नहीं करता।❜❜

 

❝जरूरी तो नहीं जो खुशी दे ऊनसे प्यार हो,
अक्सर सच्ची मोहब्बत दिल तोड़ने वालो से ही होती है।❜❜

 

❝किसी की आँखों का ख्वाब बन रहे हैं,
शुक्र है खुदा हम भी नायाब बन रहे हैं।❜❜

 

❝क्या कसूर है मेरा ए जिंदगी मुझे बस इतना सा बता दे,
मिलती रहती है एक अनजानी सी सजा हर वक़्त।❜❜

 

❝ना जाने क्यों कोसते हैं लोग बदसूरती को,
बर्बाद करने वाले तो हसीन चेहरे होते हैं।❜❜

 

❝जिस उम्र में हमारे दाँत टूटे थे,
आज-कल के बच्चों के उस उम्र में दिल टूट जाते हैं।❜❜

 

❝तुम्हारा प्यार भी शामिल था इसमे,
मै सिर्फ जहर से मरने वाला कहॉं था।❜❜

 

❝आंखो के नीचे ये काले निशान सबूत है,
कुछ राते खर्च की है मैने तुम्हारे लिये।❜❜

 

❝मेरे हर दर्द पर वाह वाह हो रही हैं,
अब दर्द भी मेरा तारिफ-ए-काबिल हो गया हैं।❜❜

 

❝हर कोई अपने मतलब की बात करता है,
नहीं सोचता कि दिल सामने वाले का भी दुखता है।❜❜

 

❝हमारा और उनका प्यार तो देखो यारो,
​कलम से नशा हम करते हैं और मदहोश वो हों
जाते हैं।❜❜

 

❝किसी मसीहा को बुलाओ, मेरा ईमान संभालनें,
फिर देख लिया आज उसने मौहब्बत की नज़र से।❜❜

 

❝हर पन्ना तेरी कविता से रंग दिया है,​
​मेरी डायरी से पूछ, इश्क किसे कहते हैं।❜❜

 

❝कुछ लोग ऐसे भी है मेरी जिंदगी में,
जो बस मेरे सामने ही मेरे हैं।❜❜

 

❝मिट्टी का बना हूँ, महक उठूंगा,
बस तू एक बार बेइँतहा ‘बरस’ के तो देख।❜❜

 

❝नसीब की बारिश, कुछ इस तरह से होती रही मुझ पर,
ख्वाहिशें सूखती रही और पलकें भीगती रहीं।❜❜

 

❝दो बुँदे क्या बरसी, चार बादल क्या छा गये,
किसी को जाम तो किसी को वो याद आ गये।❜❜

 

❝प्यार वो नहीं जो कोई कर रहा है,
प्यार वो है जो कोई निभा रहा है।❜❜

 

❝जब दो टूटे हुए दिल मिलते है ना,
तब मोह्ब्बत मैं धोखा नहीं होता।❜❜

इसे भी पढ़ें:-  Love Shayari for gf (2022) | गर्ल फ्रेंड के लिए लव शायरी

 

❝मोहब्बत नाम पाने का ही नहीं है सिर्फ,
कभी कभी सबकुछ खोने को भी मोहब्बत कहते है।❜❜

 

❝वक्त वक्त की बात होती है,
मोहब्बत मरती नहीं हंमेशा साथ होती है।❜❜

 

❝तेरी मोहब्बत में और मेरी फितरत में फर्क इतना है की,
तेरा Attitude नहीं जाता और मुझे झुकना नहीं आता।❜❜

 

❝बिल्कुल जुदा है मेरे महबूब की सादगी का अंदाज,
नजरे भी मुझ पर है और नफरत भी मुझसे ही।❜❜

 

❝चाहे फेरे ले लो या कहो कुबूल है,
अगर दिल में प्यार नहीं तो सब फिजूल है।❜❜

 

❝अगर तुम्हारी नजरें कत्ल करने में माहिर हैं,
तो हम भी मर मर कर जीने में उस्ताद हैं।❜❜

 

❝एक बार भूल से ही कहा होता हम किसी और के भी हैं,
​रब की कसम तेरी परछाई से भी दुर रहते।❜❜

 

❝लोग जब इश्क में पड़ते है तो,
बोलते कम और मुस्कुराते ज्यादा है।❜❜

 

❝लड़ के दुनिया जीती जा सकती है,
​दिल जितने के लिए तो बस प्यार ही करना पड़ता है।❜❜

 

❝यदि आप गुलाब की तरह खिलना चाहते हैं,
तो काँटों के साथ तालमेल की कला सीखनी होगी।❜❜

 

❝न आँखों से टपकते है न कागज पे उतरते है,
कुछ जख्म ऐसे होते है जो सिर्फ अंदर ही पलते है।❜❜

 

❝मुझे मालूम है, कि ये ख्वाब झूठे हैं और ख्वाहिशे अधूरी हैं,
मगर ज़िन्दा रहने के लिए कुछ गलतफहमियां भी ज़रूरी हैं।❜❜

 

❝ओर क्या कहे इन कातिल आंखो के लिए,
गुनाह भी करते हैं ओर फैसला भी सुनाते हैं।❜❜

 

❝अगर देखनी है क़यामत तो चले आओ हमारी महफ़िल में,
सुना है आज महफ़िल में वो बेनक़ाब आ रहे है।❜❜

 

❝मोहब्बत इतनी हसीन भी नहीं है,
जितनी इन शायरों ने सजा रखी हैं।❜❜

 

❝ये जिदंगी तमन्नाओं का गुलदस्ता ही तो हैं,
कुछ महकती है कुछ मुरझाती हैं और कुछ चुभ
जाती हैं।❜❜

 

❝कौन समझ पाया हैं आज तक हमें,
हम अपने हादसों के इकलौते गवाह हैं।❜❜

 

❝जब तुम्हे करीब से देखा ए ज़िंदगी,
तब पता चला, तुम दूर से ही हसीन थी।❜❜

 

❝इश्क क्या जिंदगी देगा किसी को,
ये तो शुरू ही किसी पर मरने से होता है।❜❜

 

❝तुम्हारे हर अंदाज पर रहती है मेरी नजर,
ना जाने कब तुम बोल दो के तुम अच्छे लगते हो।❜❜

 

❝खुदा से रोज तुम को मांगते हैं,
नहीं मिलोगे तुम यह भी हम जानते हैं।❜❜

 

❝ये इश्क़ भी नशा ए शराब जैसा है यारो,
करें तो मर जाएँ और छोड़ दें तो किधर जाए।❜❜

 

❝बहुत तकलीफ़ होती है बुरा अहसास होता है,
जब भी कोई फूल बेचने वाला काँटों पे सोता है।❜❜

 

❝जो आपको तकलीफ में देखकर रो पड़े,
वो कभी आपको तकलीफ नहीं दे सकता।❜❜

 

❝कोई नहीं याद करता वफ़ा करने वालो को,
​मेरी मानों बेवफा हो जाओ जमाना याद रखेगा।❜❜

 

❝ना किया करो कभी किसी से दिल दुखाने वाली बात​,
​सुना है दिल पे निशाँ रह जाते हैं सदियो तक।❜❜

 

❝मै हूं अश्क तुम्हारी आंखों का जब जी चाहे बहा देना,
इक लफ्ज हूं तुम्हारी कहानी का , ना याद रख
सको तो भुला देना।❜❜

 

❝दुख के दस्तावेज़ हो या सुख की वसीयत,
ध्यान से देखोगे तो नीचे मिलेंगे ख़ुद के ही दस्तखत।❜❜

 

❝सब बयां कर रहे थे तारीफें अपने यार की,
नींद का बहाना बना के हम महफिल छोड़ आए।❜❜

 

❝ये शायरीयाँ कुछ और नहीं बेइंतहा इश्क है,
तड़प सनम की उठती है और दर्द लफ्जो में उतर आता है।❜❜

 

❝क्या लिखूँ अपनी जिंदगी के बारे में दोस्तों वो,
लोग ही, बिछड़ गए जो जिंदगी हुआ करते थे।❜❜

 

❝कितना अलग है उनकी फितरत में अंदाज़- ए- मोहब्बत,
रोज एक ज़ख्म दे के कहते है अपना ख़याल रखना।❜❜

 

❝आहिस्ता आहिस्ता रूह में उतरा था इश्क़,
आहिस्ता आहिस्ता जान निकल रही है अब।❜❜

 

❝खत्म कर दिया किस्सा अब, रुठने मनाने का,
सुना है वो शख्स हैरान है, मेरे इस रवैये से।❜❜

 

❝न कोई रंज का लम्हा किसी के पास आए,
ख़ुदा करे कि नया साल सब को रास आए।❜❜

 

❝फिर एक दिन ऐसा भी आया जिन्दगी में,
कि मैंने तेरा नाम सुनकर मुस्कुराना छोड़ दिया।❜❜

 

❝तेरे हुस्न पर तारीफों भरी किताब लिख देता,
काश तेरी वफा तेरे हुस्न के बराबर होती।❜❜

 

❝मालूम सबको है कि जिंदगी बेहाल है,
लोग फिर भी पूछते हैं और सुनाओ क्या हाल है।❜❜

 

❝सच्चा इश्क़ किया है हमने, गवाह है रूह तुम्हारी,
राख़ से इश्क़ ही निकलेगा, गर जलाओगे रूह हमारी।❜❜

 

❝कैसी पहचान बनाई है तूने अपनी,
नाम तेरा आने पर भी लोग याद मुझे करते है।❜❜

 

❝ना मैं ही उसे समझा ना वो ही मुझे समझी,
कहने को तो हम दोनों ही समझदार थे।❜❜

 

❝हर नजर​ में मुमकिन नहीं है ​बेगुनाह​ रहना,
कोशिश करता हूँ कि ​खुद​ की नजर में ​बेदाग​ रहूँ।❜❜

 

❝तेरा मेरा रिश्ता इतना खास हो जाये​
​कि तू दूर रहकर भी मेरे पास हो जाये​,
मन से मन का तार जुड़े कुछ इस तरह​
​कि दर्द हमें हो और अहसास तुम्हे हो जाए।❜❜

 

❝सुना है शायरी इश्क करने वाले किया करते है,
पर उनका क्या जो इसे चोरी चोरी पढ़ा करते है।❜❜

 

❝धड़कन को कैसे संभालू मैं ये मेरी सुनती ही नहीं है,
जब उसका नाम ज़हन में आता है ये रूकती ही नहीं हैं।❜❜

 

❝शायरी यु ही बे-शबाब नही लिखी जाती जनाब,
हर शायर के ख्यालो में एक तस्वीर होती है।❜❜

 

❝मुझको पढ़ पाना हर किसी के लिए मुमकिन नहीं,​
​मै वो किताब हूँ जिसमे शब्दों की जगह जज्बात लिखे है।❜❜

 

❝दिलों में रहती हूँ धड़कने थमा देती हूँ,
मैं इश्क़ हूँ, वजूद की धज्जियां उड़ा देती हूँ।❜❜

 

❝दिल का बुरा नहीं हूँ मैं,
​बस लफ्जों से शरारत करता रहता हुँ।❜❜

 

❝बस इतना सा असर होगा हमारी यादों का,
कि कभी कभी तुम बिना बात मुस्कुराओगे।❜❜

 

❝नहीं कोई बात होती फिर भी बात होती है,​
​कुछ रिश्तों की ऐसे भी शुरूआत होती है।❜❜

 

❝कभी तुम नाराज हुए तो हम झुक जाएंगे,​
​कभी हम नाराज हो तो आप गले लगा लेना।❜❜

 

❝बहुत मुश्किल है मुझको गिराना​,
​क्योंकि चलना मुझे ठोकरों ने सिखाया है।❜❜

 

❝उदास ज़िन्दगी, उदास वक्त, उदास मौसम..
न जाने कितनी चीज़ों पे इल्ज़ाम लग जाता है,
एक तेरे बात न करने से।❜❜

इसे भी पढ़ें:-  Bewafa Shayari with Image | बेवफा शायरी इन उर्दू [ एकदम नयी ]

 

❝मुझे सिर्फ वक़्त गुज़ारने के लिए ना चाहा कर,​
​मैं भी इंसान हूँ, मुझे भी तकलीफ़ होती है।❜❜

 

❝कोई चेहरे का दीवाना किसी को तन की तलब,
​अदाएं पीछा करवाती हैं साहब यहाँ मोहब्बत कौन करता है।❜❜

 

❝उसकी जरूरत, उसका इंतजार और ये तन्हा आलम,​
​थक कर मुस्कुरा देते हैं, हम जब रो नहीं पाते।❜❜

 

❝तलाश-ए-यार में उड़ता हुआ ग़ुबार हूँ मैं,​
​पड़ी है लाश मेरी और क़ब्र से फ़रार हूँ मैं।❜❜

 

❝बेवफा कहने से पहले मेरी रग रग का खून निचोड़ लेना,​
​कतरे कतरे से वफ़ा ना मिले तो बेशक मुझे छोड़ देना।❜❜

 

❝जो साज से निकली है वो धुन सबने सुनी है,
जो तार पर गुज़री है वो दर्द किस को पता है।❜❜

 

❝क्यो गुमसुम हो राज ऐ दिल तो खोला करो,
हाल ऐ दिल ना सही पर कुछ तो बोला करो।❜❜

 

❝पाने से खोना मज़ा और है,
बंद आँखों से देखने का मज़ा और है,
आँशु बने लब्ज और लब्ज बने ग़ज़ल,
तेरी यादो के साथ जीने का मज़ा कुछ और है।❜❜

 

❝दिन में ना जाने कितनी बार होता है ऐसा,
तेरा याद आना और मेरा उदास हो जाना।❜❜

 

❝ना खोल मेरे मकान के उदास दरवाज़े,
​हवा का शोर मेरी उलझने बढ़ा देते है।❜❜

 

❝खूबियाँ इतनी तो नही हम मे
​की किसी के दिल मे हम घर बना पाएंगे,​
​पर भुलाना भी आसान ना होगा हमे
​साथ कुछ ऎसा निभा जाएंगे।❜❜

 

❝किसी ने पूछा इस दुनिया में आपका अपना
कौन हैं,
​मैंने हंसकर कहा
​जो दूसरों के लिये मुझे न छोड़े वो मेरे अपने हैं।❜❜

 

❝दूर रहकर भी तुम्हारी हर ख़बर रखतें हैं,
हम पास तुम्हें कुछ इस कदर रखते है।❜❜

 

❝बन गए हो तुम वो ख़्याल यकिनन,
​जिसे चाहकर भी भुलाया नहीं जाता।❜❜

 

❝प्यार को समझने को उम्र चाहिए जनाब,
दो घड़ी की चाहत में महोब्बत नहीं मिलती।❜❜

 

❝दिल पे क्या गुज़री वो अनजान क्या जाने
प्यार किसे कहते है वो नादान क्या जाने,
हवा के साथ उड़ गया घर इस परिंदे का
कैसे बना था घोसला वो तूफान क्या जाने।❜❜

 

❝मुस्कुराते रहो तो दुनिया आपके कदमों में होगी,
क्योंकि आँसुओं को तो आँखें भी जगह नहीं देती।❜❜

 

❝कुछ खास जादू नही है मेरे पास,
बस बातें थोड़ी सी दिल से करता हूँ।❜❜

 

❝परखने का नाम अगर इश्क़ होता,
तो मुझे खुद से मोहब्बत हो जाती।❜❜

 

❝रिश्ते और रास्ते तब ख़त्म हो जाते हैं,
जब पैर नहीं दिल थक जाते हैं।❜❜

 

❝दुख की बात ये है कि, वक़्त बहुत कम है,
​ख़ुशी की बात ये है कि, अभी भी वक़्त हैं​।❜❜

 

❝नींदें छीन रखी है तेरी यादों ने​,
​गिला तेरी दुरी से करें या अपनी चाहत से​।❜❜

 

❝दूरियाँ मिटाने के लिये एक दूसरे के पीछे नहीं,​
​एक दूसरे की ओर चलना पड़ता हैं।❜❜

 

❝कुछ अजीब है ये दुनिया,
​यहाँ झूठ नहीं ​सच बोलने से रिश्ते टूट जाते हैं।❜❜

 

❝इश्क है या इबादत अब कुछ समझ नहीं आता,​
​एक खुबसूरत ख्याल हो तुम जो दिल से नहीं जाता।❜❜

 

❝गिरते हुए आँसुओं को कौन देखता है,
झूठी मुस्कान के दीवाने हैं सब यहाँ।❜❜

 

❝आसान नहीं है हमसे यूँ शायरी में जीत पाना,
हम हर एक लफ़्ज़ मुहब्बत में हार कर लिखते है।❜❜

 

❝बदल जाओ वक्त के साथ या फिर वक्त बदलना सीखो,
मजबूरियों को मत कोसो, हर हाल में चलना सीखो।❜❜

 

❝इतर से कपड़ों का महकाना कोई बड़ी बात नहीं है,
मज़ा तो तब है जब आपके किरदार से खुशबु आये।❜❜

 

❝तुम कुछ यादें याद कर मुस्कुरा लेना,
मैं कुछ बातें भूल कर मुस्कुरा लूँगा।❜❜

 

❝उसके जैसी कोई दूसरी कैसे हो सकती है,
अब तो वो खुद भी खुद के जैसी नहीं रही।❜❜

 

❝अजीब तरीका है, उस पगली के जबाव माँगने का,
होठों पर होंठ रख कर पुछती है कुछ तो बोलो।❜❜

 

❝लाजमी नही है की हर किसी को मौत ही छूकर निकले,
​किसी किसी को छूकर जिंदगी भी निकल जाती है।❜❜

 

❝प्यार में यू लफ्जों का इस्तेमाल न कर,
मैं आंखों से भी सुन लूंगा, तू नजरों से बयान तो कर।❜❜

 

❝इश्क़ को जब हुस्न से, नज़रें मिलाना आ गया,
ख़ुद-ब-ख़ुद घबरा के, क़दमों में ज़माना आ गया।❜❜

 

❝किसी ने धूल क्या झोकी आखों मे,
​कम्बख़्त पहले से बेहतर दिखने लगा।❜❜

 

❝खुदा ना करे के वो दिन आये​,
​आप पलट कर देखो और हम नज़र ना आये।❜❜

 

❝अपनी मुस्कराहट को जरा Control में रखो,
नादान सा दिल मेरा कहीं शहीद ना हो जाए।❜❜

 

❝ना डरा मुझे ऐ वक़्त नाकाम होगी तेरी हर कोशिशे,
​ज़िन्दगी के मैदान में खड़ा हूँ दुआओं का लश्कर लेकर।❜❜

 

❝दर्द बयां करना है तो शायरी से कीजिये जनाब,
लोगों के पास वक़्त कहाँ एहसासों को सुनने का।❜❜

 

❝औक़ात नही थी जमाने में जो मेरी कीमत लगा सके,
कबख़्त इश्क में क्या गिरे, मुफ़्त में नीलाम हो गए।❜❜

 

❝सोचा ना था वो शख्स भी इतना जल्दी साथ छोङ जाएगा,
जो मुझे उदास देखकर कहता था की मैं हू ना।❜❜

 

❝कोई नही आऐगा मेरी जिदंगी मे तुम्हारे सिवा,
एक मौत ही है जिसका मैं वादा नही करता।❜❜

 

❝दिल मुझे आज ये कहकर डरा रहा है,
करो याद उनको वरना मैं भी धड़कना छोड़ दूँगा।❜❜

 

❝अपने हर लफ्ज़ में कहर रखते हैं हम,
रहे खामोश फिर भी असर रखते है हम।❜❜

 

❝जिस्म सौंप देने से अगर मोहब्बत बढ़ती,
तो सबसे ज्यादा आशिक़ किसी वेश्या के होते।❜❜

 

❝आंखो से आंखो को सुनाई जाती है,
दुनियां से जो बात छुपाई जाती है,
चांद से पूछो.. या फिर पूछो मेरे दिल से,
तन्हा कैसे रात बिताई जाती है।❜❜

 

❝बड़ी बेगरत सी बात कही थी उसने,
हम याद करते तुम्हे तुम्हारा दिल दुखाने के लिए ही।❜❜

 

❝सिर्फ एक ही तमन्ना रखते है हम अपने दिल में,
मोहब्बत से याद करो फिर चाहे मुद्दतो बात न करो।❜❜

 

❝वो मुझसे बिछड़ कर खुश है तो उसे खुश रहने दे…ऐ खुदा,
मुझसे मिल कर उसका उदास होना मुझे अच्छा नहीं लगता।❜❜

 

❝तलाशता है दिल एक कोना अपने ही लिए,
उसी दिल में जिसमे जगह नही है अब किसी के लिए।❜❜

Leave a Reply

Your email address will not be published.