Sacha Pyar Shayari in Hindi | सच्ची मोहब्बत पर हिंदी शायरी

नमस्ते! तो कैसे है आप लोग उम्मीद करते है अच्छे होंगे ! आपका हमारे ब्लॉग पर हमने Sacha Pyar Shayari in Hindi में लिखी है जो आपको बोहोत पसंद आएंगी। आप इन शायरी को अपने प्रेमी या प्रेमिका से शेयर कर सकते है।

सच्चा प्यार ऐसा ही होता है एक पल की दुरी भी सहन नहीं कर पाते अगर आप भी किसी से सच्ची मोहब्बत करते है और अपना दिल खो बैठे है तो आपको यहा पर थोड़ा सुकून मिलेगा। ये सच्ची मोहब्बत की शायरी उन लोगो के लिए है जो प्यार में फ़ना हो चुके है।

Sacha Pyar Shayari in Hindi

हम जानते है आप जीते हो जमाने के लिए,
एक बार तो जीके देखो सिर्फ हमारे लिए,
…….
इस नाचीज़ की दिल क्या चीज़ है,
हम तो जान भी देदेंगे आप को पाने के लिए।

 

सफर वहीं तक है जहाँ तक तुम हो
नजर वहीं तक है जहाँ तक तुम हो . . .
……
हजारों फूल देखे हैं इस गुलशन में मगर,
खुशबू वहीं तक है जहाँ तक तुम हो …!!!

 

बुझी शमा भी जल सकती है,
तूफानों से कश्ती भी निकल सकती है,
…. ..
हो के मायूस यूँ ना अपने इरादे बदल,
तेरी किस्मत कभी भी बदल सकती है।

 

वफ़ा की ज़ंज़ीर से डर लगता है….
कुछ अपनी तक़दीर से डर लगता है….
… …
जो मुझे तुझसे जुदा करती है….
हाथ की उस लकीर से डर लगता है…..

 

जिदगी एक सजा सी हो गई हैं
गम के सागर मे इस कदर खो गई है
…….
तुम आ जाओ वापिस यह गुजारिश है मेरी
शायद मुझे तुम्हारी आदत सी हो गई है.

 

बैठकर ख़ामोश, आजमाएंगे
देखते हैं कब तुमको याद आएंगें….
…….
कोई तो गिनती होगी मेरी भी कहीं
किसी के नाम के बाद, हम भी आएंगें….♥️

 

महकता हुआ जिस्म तेरा गुलाब जैसा है
नींद के सफर में तू ख्वाब जैसा है
…….
दो घूंट पी लेने दे आँखों की मस्तियाँ
नशा तेरी आँखों का शराब जैसा है..

 

एक अजनबी से मुझे इतना प्यार क्यों है ,
इनकार करने पर चाहत का इकरार क्यों है ,
………..
उसे पाना नहीं मेरी तक़दीर में शायद ,
फिर उसी मोड़ पर उसी का इंतज़ार क्यों है.

 

Sacha Pyar Shayari in Hindi

जब तुम आख़री कश ले रहे होंगे
मैं तुम्हारी सिगरेट छीनकर ..
चूम लूँगी तुम्हें ..
……
और यक़ीं दिलाऊँगी तुम्हें ..
अंत ख़ूबसूरत होते हैं .. ❤️❤️

 

इस क़दर भीगा हूँ… ग़म-ए-बारिशों से मैं…
अब के मेरे इंतिकाम… पानियों पे रखे जायें ॥
……
तुमको हिसाब ना है… मेरे रोने का फिर तो…
रोने के सबब तमाम… पानियों पे रखे जायें ॥

 

बैठी हुई हूं प्यार से घूंघट निकाल कर
आँखों मैं वस्ल यार की शिद्दत लिए हुए
……..
इक उम्र कट गई है तेरे इन्तेज़ार मैं
महर ओ वफा का आखिरी मंज़र लिए हुए..!!

 

अरसा हुआ है… इंतज़ार करते-करते…
थक गए हैं हम… ये प्यार करते करते ॥
……..
बेहिस से हो चलें हैं… अब के हाल यूँ…
मायूस हैं बेहद… इंतज़ार करते करते ॥

 

अपने होंठों पर सजाना चाहती हूँ
आ तुझे मैं गुनगुनाना चाहती हूँ…..!!
…….
आख़री हिचकी तेरे बाहों में आये
मौत भी मैं शायराना चाहती हूँ…….!!

 

यहां समझता ही नहीं कोई
किसी के आंखो मे ठहरें नमी को…!
……..
बस सब हंसते हुए चेहरे को
देखकर जल उठते हैं..!!

 

आता नहीं था हमें इकरार करना
न जाने कैसे सीख गए प्यार करना….😍
………
रुकते नहीं थे दो पल किसी के लिए
न जाने कैसे सीख गए इंतजार करना…..😘

 

इश्क़ को आग होने दीजिए,
फिर दिल को राख होने दीजिए..!
……..
तब जाकर पकेगी बेपनाह मोहब्बत,
जो भी हो रहा बेहिसाब होने दीजिए…!!

 

Sacha Pyar Shayari in Hindi

वक्त ने फिर साबित कर दिया।
हर बुरे वक्त में अपने ही याद आते है.
………
जीत लीजिए बेशक दुनिया सारी।
पर अपनों के बिना हम अधूरे ही रह जाते है।

 

नज़रे करम मुझ पर इतना न कर,
की तेरी मोहब्बत के लिए बागी हो जाऊं,
…….
मुझे इतना न पिला इश्क़-ए-जाम की,
मैं इश्क़ के जहर का आदि हो जाऊं। ❤️

 

चुटकी भर भी नींद नहीं है….आँखों में,
दरिया भर भर प्यार का प्यासा सागर हूँ!!
…….
छू कर मन को संदल कर दो..आओ ना..
तेरे लिए भटकता कब से……पागल हूँ!!
………
सुनो..बरस जाऊँ मैं तुम में..आज अभी,
तेरी बाहों में सिमटा सा…….बादल हूँ।।

 

तूफ़ान में खोई कश्ती को आख़िर,
मिल ही गया फिर किनारा..
…….
हम छोड़ आये ख्वाबों की दुनिया,
दिल ने तेरे जब मुझे पुकारा..🙇🏻‍♂️

 

तलाशी ले लो निगाहों की
मेरी ख़ताओं का पता तुम्हें लग जाएगा
……..
बस एक तेरी तस्वीर छुपाई है मैंने दिल में
उसके सिवा तुम्हें कुछ भी न मिल पाएगा.

 

जिस तरह से तुम आज हो… उसी तरह से…
कभी हमारा भी कोई… हुआ करता था ॥
…….
के वक़्त गुज़र गया है… मौक़ा देखकर…
ये वक़्त हमारा भी कभी… हुआ करता था ॥

 

तेरी आँखों के लिए इतनी सज़ा काफ़ी है
आज की रात मुझे ख़्वाब में रोता हुआ देख
……..
बड़ा गुरूर था तुझे अपनी हस्ती पर
इश्क़ में ख़ुद को मुझ में घुलता हुआ देख.

 

हमे तो मुस्कराहट तुम्हीं से मिलती हैं
दर्द से राहत तुम्ही से मिलती हैं
…….
कभी रूठना मत हमसे ऐ सनम
हमे तो जीने की चाहत तुम्हीं से मिलती है..!

 

Sacha Pyar Shayari in Hindi

वीराने में दीवारों पर जाले पड़ गए।।
तेजाबी इश्क़ से दिल पर छाले पड़ गए ।।
……..
एक तस्वीर जलाने सिगरेट पकड़ी थी
तस्वीर ना जली पर होंठ काले पड़ गए।।

 

शायद कुछ गलती मेरी ही होगी…
उस गलती की सजा कुछ को खोने की होगी…
……..
आदत है मुझे लोगो से दूर जाने की…
तो इसका मतलब ये तो नही न कि मेरी चाहते यही होगी…

 

तुझे पाने की इसलिए ज़िद नहीं करते,
क्योंकि तुझे खोने को दिल नहीं करते।
……..
तू मिलता है तो इसलिए नज़रें नहीं उठाते
कि फिर नज़रें हटाने को दिल नहीं करता‼

 

जाने क्यों आती है याद तुम्हारी,
चुरा ले जाती है आँखों से नींद हमारी,
………
अब यही ख्याल रहता है सुबह शाम,
कब होगी तुमसे मुलाकात हमारी..!

 

प्यार कमजोर दिल से किया नहीं जा सकता!
ज़हर दुश्मन से लिया नहीं जा सकता!
……..
दिल में बसी है उल्फत जिस प्यार की!
उसके बिना जिया नहीं जा सकता!

 

उसकी,
मेहंदी का सुर्ख़ लाल रंग बता रहा हैं,
बहुत प्रेम करने वाला पति होगा..
……
बहता हुआ स्याह काजल बता रहा हैं,
बहुत प्रेम करने वाला प्रेमी था ..

 

देख मेरी आँखों में ख्वाब किसके हैं;
दिल में मेरे सुलगते तूफ़ान किसके हैं;
……
नहीं गुज़रा कोई आज तक इस रास्ते से हो कर;
फिर ये क़दमों के निशान किसके हैं 🚶‍♀

Leave a Reply

Your email address will not be published.