Dhokebaaz Shayari In Hindi | धोखेबाज शायरी इन हिंदी

Dhokebaaz Shayari In Hindi

इस पोस्ट में आपको पढ़ने को मिलेंगे हमारे अपने लिखें धोखेबाज शयरी स्टेटस इन हिंदी, Dhokebaaz Shayari In Hindi, अपनों से धोखा शायरी कोट्स इन हिंदी इत्यादि।

और इन बेहतरीन Dhokha Shayari और Status के लिए आशा करूँगा के ये आपको पसंद आये। पसंद आयें तो इन्हे आप अपने Dost,Family और अपने प्रेमी को msg या sms कर जरूर शेयर करें।

Dhokebaaz Shayari In Hindi

उदास नज़रो में ख़्वाब मिलेंगे।
कभी काटे तो कभी गुलाब मिलेंगे।
मेरे दिल की किताब को मेरी नज़रो से पढ़ कर तो देखो।
कही आपकी यादे तो कही आप मिलेंगे ।

 

प्यार-मोहब्बत की बस इतनी सी कहानी है,
इक टूटी हुई कश्ती और ठहरा हुआ पानी है,
इक फूल जो किताबों में कहीं दम तोड़ चुका है,
कुछ याद नहीं आता किसकी निशानी है।

 

वक़्त की आग में पत्थर भी पिघल जाते हैं,
हसीं लम्हे टूटकर अश्कों में बह जाते हैं,
कोई साथ नहीं देगा इस ज़िंदगी में हमारा,
क्यूंकि वक़्त के साथ इंसान बदल जाते हैं।

 

करोगे याद एक दिन चाहत के ज़माने को,
चले जायेंगे जब हम कभी वापस न आने को,
करेगा महफ़िलों में जब ज़िक्र हमारा कोई,
तन्हाई ढूंढोगे तुम भी दो आँसू बहाने को।

 

उलझी हुई शाम को पाने की ज़िद न करो,
जो अपना ना हो उसे अपनाने की ज़िद न करो,
इस समंदर में तूफ़ान बहुत आते हैं,
इसके साहिल पर घर बनाने की ज़िद न करो।

 

Dhokebaaz Shayari In Hindi

उनकी मुस्कान हमारी कमजोरी है,
उनसे कुछ कह न पाना हमारी मजबूरी है,
वो क्यों नहीं समझते हमारी ख़ामोशी को,
क्या ख़ामोशी को जुबान देना जरूरी है।

इसे भी पढ़ें:-  Top 150+ Yaad Shayari in Hindi | याद शायरी हिन्दी मे.!

 

उसकी शख्सियत में वो अहसास तो है,
अभी अपना नहीं है मगर खास तो है,
उसकी बातों में अभी है लफ्ज़-ए-इन्कार,
बहुत थोड़ी ही सही मगर मुझे आस तो है।

 

छुप-छुप के एहतमाम में सफ़र का पता चला,
वो जुदा हो गया तब उसके हुनर का पता चला,
जब एक-एक फूल उड़ा ले गई हवा,
तब जाकर बहार को मेरे घर का पता चला।

 

दिल कहता है मोहब्बत नहीं क़यामत है ये,
फिर दिल की दीवार पर तेरा चेहरा क्यूँ है,
और भी ज़ख्म हैं तेरे ज़ख्मों के सिवा,
तेरे ही ज़ख्म का दाग इतना गहरा क्यूँ है।

 

वो करते है मोहब्बत की बात,
लेकिन मोहब्बत के दर्द का उन्हें एहसास नही,
मोहब्बत तो वो चाँद है जो दिखता तो है सबको,
लेकिन उसको पाना सबके बस की बात नही।

 

Dhokebaaz Shayari In Hindi

अब तो हम दर्द से खेलना सीख गये है,
अब तो हम वेबफाई के साथ जीना सीख गये है,
क्या बताये यारो की कितना दिल टूटा है हमारा,
अब तो हम मौत से पहले कफ़न ओढ़ कर सोना
सीख गये है।

 

उसे हमने बहुत चाहा था पर प न सके,
उसके सिवा ख्यालो में किसी और को ला न सके,
आँखों के आँसू तो सूख गये उन्हें देख कर,
लेकिन किसी और को देख कर मुस्कुरा न सके।

 

चाहत इतनी थी की उनको दिखाई न गई,
चोट दिल पर लगी इसलिए दिखाई न गई,
हम चाहते तो थे सारी दूरियां मिटाना,
लेकिन दूरियां इतनी थी की मिटाई न गई।

 

हमे तो सिर्फ जिंदगी से एक ही गिला है,
क्यों हमे खुशियां न मिल सकी क्यों ये गम मिला है,
हमने तो उनसे इश्क-ए-वफ़ा की थी,
क्यों वफ़ा करने के बाद वेबफाई ही सिला है।

इसे भी पढ़ें:-  Best 150+ Judai Shayari in Hindi | जुदाई शायरी हिंदी में.!

 

मुझे जिसने जिंदगी दी, वो मरता छोड़ गये,
जिससे मोहब्बत की वो मुझे तन्हा छोड़ गये,
थी हमे भी एक हमसफ़र साथ चलने को जरूरत,
जो साथ चलने बाले थे वही रास्ता मोड़ गये।

 

Dhokebaaz Shayari In Hindi

मुझे भी अब नींद की तलब नहीं रही
अब रातों को जागना अच्छा लगता है
मुझे नहीं मालूम वो मेरी किस्मत में है या नहीं
मगर उसे खुदा से माँगना अच्छा लगता है।

 

कब तक वो मेरा होने से इंकार करेगा
खुद टूट कर वो एक दिन मुझसे प्यार करेगा
इश्क़ की आग में उसको इतना जला देंगे
कि इज़हार वो मुझसे सर-ए-बाजार करेगा।

 

कभी किसी को इतना सताया न करो,
अपने लिए कभी किसी को तड़पाया न करो,
जिनकी साँसे ही वो आपके लव्ज़ हो,
उन लफ़्ज़ों के लिए कभी किसी को तरसाया न करो।

 

वो बेवफा हमारा इम्तेहा क्या लेगी…
मिलेगी नज़रो से नज़रे तो अपनी नज़रे ज़ुका लेगी…
उसे मेरी कबर पर दीया मत जलाने देना…
वो नादान है यारो… अपना हाथ जला लेगी.

 

हम आँखों से रोये और होठो से मुस्कुरा बैठे,
हमतो बस यूँ ही उनसे इश्क-ए-वफ़ा निभा बैठे,
वो हमे अपनी मोहब्बत का एक लम्हा भी न दे सके,
और हम उन पर यूही हर लम्हा लूट बैठे।

 

Dhokebaaz Shayari In Hindi

जो पल बीत गये वो बापस आ नही सकते,
सूखे फूलो को बापस खिला नही सकते,
कभी ऐसा लगता है वो हमे भूल गये होंगे,
पर ये दिल कहता है वो हमे कभी भुला नही सकते।

 

इसे भी पढ़ें:-  Sad Shayari in Hindi for Life | उदास जिंदगी शायरी हिंदी में.!

हर बात में आँसू बहाया नही करते,
हर बात दिल की हर किसी से कहा नही करते,
ये नमक का शहर है,
इसलिए ज़ख्म यहाँ हर किसी को दिखाया
नही करते।

 

ये वक्त बदला और बदली ये कहानी है,
अब तो बस मेरे पास उनकी यादें पुरानी है,
न लगाओ मेरे ज़ख्मो पे मरहम,
क्योंकि मेरे पास बस उनकी यही बची हुई निशानी है।

 

जब तक दर्द न हो किसी के आंसू आया नही करते,
बिना वजह किसी का दिल दुखाया नही करते,
ये बात सुन लो कान खोल कर,
किसी के सपने तोड़ कर अपने सपने सजाया नही करते।

 

वह नहीं आती पर निशानी भेज देती है,
ख्वाबों में दास्तां पुरानी भेज देती है,
कितने मीठे हैं उसकी यादों के मंजर,
कभी-कभी आंखों में पानी भेज देती है।

 

Dhokebaaz Shayari In Hindi

उन्होंने हमे आजमाकर देख लिया ,
एक धोका हमने भी खाकर देख लिया।
क्या हुआ हम हुए जो उदास ,
उन्होंने तो अपना दिल बेहलाके देख लिया ।।

 

उन्होंने हमे आजमाकर  देख लिया ,
एक धोका 💔 हमने भी खाकर देख लिया …
क्या हुआ हम हुए जो उदास ,
उन्होंने तो अपना दिल ♥️ बेहलाके देख लिया … ।।

 

अपना होगा तो सता के मरहम देगा,
जालिम होगा अपना बना के जख्म देगा,
समय से पहले पकती नहीं फसल,
अरे बहुत बरबादियां अभी मौसम देगा ,!

 

अब तो हम तेरे लिए अजनबी  हो गए ,
बातों  के सिलसिले भी कम हो गए …
खुशियों  से जायदा हमारे पास गम  हो गया ,
क्या पता यह व 🕣 बुरा है या बुरे हम हो गए …।।

Leave a Reply

Your email address will not be published.