150+ Dard e dil Shayari in Hindi | दर्दे दिल शायरी हिंदी में

दोस्तों आपके लिए आज हम Dard e dil Shayari in Hindi दर्दे दिल शायरी लेके आये हैं जब आप किसी से मोहब्बत करते हैं और वह व्यक्ति आपको धोका या आपको दुःख दर्द देता है तो आपका दर्द-ए-दिल बहुत तकलीफ देता है।

यही देख कर हम आपके लिए लाये हैं एक से बढ़ कर एक Dard e dil Shayari शायरी ये सिर्फ और सिर्फ आपके लिए है। कई बार प्यार के लिए शायरी जरुरी बन जाता है चाहे वो Boyfriend हो या Girlfriend और इसी टाइम दिल बहुत बचैन होता हैं। तो यही दर्दे दिल शायरी आपके काम आने वाला है।

Dard e dil Shayari in Hindi

उसकी यादों को किसी कोने में छुपा नहीं सकता,
उसके चेहरे की मुस्कान कभी भुला नहीं सकता,
मेरा बस चलता तो उसकी हर याद को भूल जाता,
लेकिन इस टूटे दिल को मैं समझा नहीं सकता।

जब भी आती है तेरी याद तो मुस्कुरा लेती हूँ,
कुछ पल के लिए ही सही सारे दुःख भुला लेती हूँ,
कैसे भीगेंगी तेरी ये आँखें,
जब तेरे हिस्से के आँसू मैं बहा लेती हूँ.

मुझको रुला कर दिल उसका रोया तो होगा,
उसकी आँखों में भी आँसू आया तो होगा,
अगर न किया कुछ भी हासिल हमने प्यार में,
कुछ न कुछ उसने भी खोया तो होगा।

क्या आये तुम जो आये घड़ी दो घड़ी के बाद,
सीने में होगी सांस अड़ी दो घड़ी के बाद,
क्या रोका अपने गिर्ये को हम ने कि लग गयी,
फिर वही आँसुओं की झड़ी दो घड़ी के बाद।

ये हकीक़त है कि होता है असर बातों में,
तुम भी खुल जाओगे दो-चार मुलक़ातों में,
तुम से सदियों की वफाओं का कोई नाता न था,
तुम से मिलने की लकीरें थीं मेरे हाथों में।

Dard e dil Shayari in Hindi

प्यार कर के कोई जताए ये ज़रूरी तो नहीं,
याद कर के कोई बताये ये ज़रूरी तो नहीं,
रोने वाले तो दिल में ही रो लेते हैं अपने,
कभी आँख में आसूं आये ये ज़रूरी तो नहीं।

हर एक मुस्कुराहट मुस्कान नहीं होती,
नफरत हो या मोहब्बत आसान नहीं होती,
आँसू गम के और ख़ुशी के होते हैं एक जैसे,
इन आँसुओं की कोई पहचान नहीं होती।

बहुत मुश्किल से दिल लगाया जाता है,
बहुत मुश्किल से वादा निभाया जाता है,
ले आता है इश्क़ हमें उस मोड़ पर,
जहाँ पर दीया नहीं दिल जलाया जाता है.

हमने तो बस इतना ही सीखा है दोस्तों,
राह-ए-वफ़ा में कभी किनारा नहीं मिलता,
जो मिल जाये इस राह पर कभी यार से,
वो ज़ख्म कभी फिर दोबारा नहीं सिलता।

दिल्लगी थी उसे हम से मोहब्बत कब थी,
महफिल-ए- गैर से उसको फुरसत कब थी,
वो कहते तो हम मोहब्बत में फ़ना हो जाते,
उसके वादों में पर वो हकीकत कहाँ थी।

Dard e dil Shayari in Hindi

हमने तो बस इतना ही सीखा है दोस्तों,
राह-ए-वफ़ा में कभी किनारा नहीं मिलता,
जो मिल जाये इस राह पर कभी यार से,
वो ज़ख्म कभी फिर दोबारा नहीं सिलता।

दिल्लगी थी उसे हम से मोहब्बत कब थी,
महफिले गैर से उस को फुरसत कब थी,
कहते तो हम मोहब्बत में फ़ना हो जाते,
उसके वादों में पर वो हकीकत कहाँ थी।

ऐसी कर दी है तू ने मेरी हालत सनम,
दिल के जख्म किसी को दिखा न पाउँगा,
तुझसे किया है वादा तभी मजबूर हूँ,
इसी लिए खुद को मैं मिटा न पाउँगा।

उनकी याद में बेकरार हो जाता क्यों है !
उनकी बात में उमड़ जाता क्यों है !
प्यार करना है तो इजहार क्यों नहीं करता !
अपने साथ उनके दिल को सताता क्यों है !!

मोहब्बत में किसी का इंतज़ार न करना,
गर हो सके तो किसी से प्यार न करना,
कुछ नहीं मिलता किसी से मोहब्बत करके,
खुद की ज़िन्दगी इस पर बेकार मत करना।

Dard e dil Shayari in Hindi

बात ऊँची थी मगर बात जरा कम आंकी,
मेरे जज्बात की औकात जरा कम आंकी,
वो फ़रिश्ता कहकर मुझे जलील करता रहा,
मैं इंसान हूँ मेरी जात जरा कम आंकी।

हम भूल जाये ऐसी दिल की हसरत कहाँ,
वो याद करे हमे इतनी उसे फुर्सत कहाँ,
जिनके चारो तरफ हो अपनों का साथ,
ऐसे सनम को हमारी जरुरत ही कहाँ।

तुम नहीं हो पास मगर तन्हाँ रात वही है !
वही है चाहत यादों की बरसात वही है !
हर खुशी भी दूर है मेरे आशियाने से !
खामोश लम्हों में दर्द-ए-हालात वही है !!

हमें आँसुओं से ज़ख्मों को धोना नहीं आता,
मिलती है ख़ुशी तो उसे खोना नहीं आता,
सह लेते हैं हर ग़म को जब हँसकर हम,
तो लोग कहते है कि हमें रोना नहीं आता।

इतना तो ज़िंदगी में किसी की खलल पड़े,
हँसने से हो सुकून ना रोने से कल पड़े,
मुद्दत के बाद उसने जो की प्यार की निगाह,
जी खुश तो हो गया मगर आँसू निकल पड़े।

Dard e dil Shayari in Hindi

जब प्यार नहीं है तो भुला क्यों नहीं देते,
खत किसलिए रखे हैं जला क्यों नहीं देते,
किस वास्ते लिखा है हथेली पे मेरा नाम,
मैं हर्फ़ गलत हूँ तो मिटा क्यों नहीं देते।

भर आई मेरी आँखे जब उसका नाम आया,
इश्क़ नाकाम सही फिर भी बहुत काम आया,
हमने मोहब्बत में ऐसी भी गुज़ारी कई रातें,
जब तक आँसू ना बहे दिल को आराम न आया।

मेरे दिल में न आओ वरना डूब जाओगे,
ग़म-ए-अश्कों के सिवा कुछ भी नहीं अंदर,
अगर एक बार रिसने लगा जो पानी,
तो कम पड़ जायेगा भरने के लिए समंदर।

तेरे वादों ने हमें घर से निकलने न दिया,
लोग मौसम का मज़ा ले गए बरसातों में,
अब न सूरज न सितारे न शम्मां न चांद,
अपने ज़ख्मों का उजाला है घनी रातों में।

ज़ख्म जो तू ने दिया वो गहरा दिया,
करके वादा तू ने हमको भुला दिया,
दर्द देने वाले तेरा दिल से शुक्रिया,
जो ज़िन्दगी का तूने मतलब सिखा दिया।

Dard e dil Shayari in Hindi

सितम सह कर भी कितने ग़म छिपाये हमने,
तेरी खातिर हर दिन आँसू बहाये हमने,
तू छोड़ गया जहाँ हमें राहों में अकेला,
तेरे दिए ज़ख्म हर एक से छुपाये हमने।

वो याद आये भुलाते भुलाते,
दिल के ज़ख्म उभर आये छुपाते छुपाते,
सीखा था जिसे देख के मुस्कुराना,
उसी ने आज रुलाया हँसाते हँसाते।

छु ले आसमान जमीन की तलाश न कर,
जी ले जिंदगी खुशी की तलाश न कर,
तकदीर बदल जाएगी खुद ही मेरे दोस्त,
मुस्कुराना सीख ले वजह की तलाश न कर!

Leave a Reply

Your email address will not be published.